Ganesha Chaturthi 2021: गणेश चतुर्थी के दिन इस शुभ मुहूर्त में गणपति स्थापित करने से मिलेगा लाभ

धर्म-कर्म

ganesha chaturthi 2021 10 september know the time of eastablish ganpati chanting these ganesha mantra

गणेश चतुर्दशी 2021

Ganesha Chaturthi 2021: गणेश चतुर्ती पर्व का लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. इस दिन लोग अपने घर में गणपति की स्थापना करते हैं. 10 दिन तक चलने वाले इस पर्व में गणपति की खूब सेवा की जाती है. तरह-तरह के पकवानों से गणपति को भोग लगाया जाता है. इस समय सब भक्तिमय हो जाते हैं. गणपति की पंसदीदा चीजों को इस दौरान शामिल किया जाता है. पूरे विधि-विधान के साथ पूजा की जाती है. गणपति की आरती की जाती है. घर को लाइटों और दीपों से सजाया जाता है और 10 दिन के बाद अनंत चतुर्दशी के दिन भगवान गणेशा का जोर-शोरों के साथ विसर्जन कर दिया जाता है. लेकिन इन सब में एक चीज जो सबसे महत्वपूर्ण है, वो है गणपति को स्थापित करने का शुभ मुहूर्त. कहते हैं कि अगर शुभ मुहूर्त में ही गणपति की स्थापना की जाए, तो काफी फलदायी होता है. आइए जानते हैं मूर्ति स्थापित करने का शुभ मुहूर्त.

गणपति स्थापना का शुभ मुहूर्त (Ganesh chaturthi Shubh Muhurat)
10 सितंबर 2021, शुक्रवार को गणेश चतुर्थी पर्व है. इस दिन अगर आप शुभ मुहूर्त में ही गणपति की स्थापना करेंगे, तो ये आपके लिए काफी फलदायी होगा. बता दें कि पूजा का शुभ मुहर्त दोपहर 12:17 बजे से लेकर रात 10 बजे तक रहेगा. तो ऐसे में आप 10 सितंबर को 12 बजे के बाद कभी भी गणपति की स्थापना और पूजा आदि कर सकते हैं. 

गणपति मंत्र का जाप (ganesha mantra chanting)
गणपति स्थापित करने के बाद घर में पूरे विधि-विधान के साथ उनकी पूजा की जाती है. बता दें कि पूजा के समय  ऊं गं गणपतये नम: मंत्र का जाप जरूर करें. इससे लाभ होगा. वहीं, प्रसाद के रूप में मोदक और लड्डू वितरित करें. मान्यता के अनुसार गणपति को मोदक और लड्डू दोनों ही बेहद प्रिय है. 

गणपति विसर्जन (ganesha visarjan)
बता दें कि गणपति को 10 दिनों तक घर पर रखा जाता है. उसके बाद अन्नत चतुर्दशी के दिन बप्पा का विसर्जन किया जाता है. बप्पा का विसर्जन काफी धूम-धाम के साथ किया जाता है. इस साल अन्नत चतुर्दशी 19 सितंबर 2021 को मनाई जाएगी. इस दिन गणपति को विदाई दी जाती है. इस साल चतुर्दशी तिथी 19 सितंबर से शुरू होकर 20 सितंबर तक रहेगी. इसमें गणेश विसर्जन का शुभ मुहूर्त ये हैं-


सुबह का मुहूर्त- 7:39 से लेकर दोपहर 12:14 तक
दिन का मुहूर्त- दोपहर 1:46 से लेकर 3:18 तक
शाम का मुहूर्त- शाम 6:21 से लेकर 10:46 तक
रात का मुहूर्त- रात 1:43 से लेकर 3:11 तक (20 सितंबर)
प्रातः काल मुहूर्त- सुबह 4:40 से लेकर 6:08 बजे तक (20 सितंबर)