BETUL : कोतवाली के दो आरक्षकों ने दुकान के गल्ले से निकाले पांच हजार रुपए, बनाया सट्टे का केस

बैतूल

फरियादी युवक ने एसपी से शिकायत कर की कार्रवाई की मांग

बैतूल। कोतवाली थाने के दो आरक्षकों द्वारा नाश्ते की दुकान चलाने वाले एक युवक की दुकान के गल्ले से पांच हजार से ज्यादा रुपए नकदी निकालकर और गलत तरीके से सट्टा-पट़्टी लिखने का केस बनाकर उसे प्रताडि़त करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। फरियादी युवक ने एसपी को शिकायती आवेदन देकर आरक्षकों पर विभागीय कार्रवाई करने और भविष्य में उसे प्रताडि़त नहीं किए जाने की गुहार लगाई है।
युवक द्वारा दिए आवेदन में बताया गया कि युवक अब्दुल आसिफ खान पिता अब्दुल लतीफ खान उम्र 27 वर्ष, कोठीबाजार बस स्टैंड के पास नाश्ते की दुकान चलाता है। युवक के अनुसार 17 मार्च 2020 को शाम चार बजे कोतवाली के दो आरक्षक निलेश और आशीष उसकी नाश्ते की दुकान पर आए और आसिफ से कहा कि वह दुकान में सट्टा लिखता है। जब आसिफ ने इसका विरोध किया तो आरक्षकों ने उसकी दुकान के गल्ले में रखे बिक्री के 5 हजार 370 रुपए निकाल लिए और उसे बाइक पर बिठालकर थाने ले गए और उसके साथ मारपीट की। युवक आसिफ ने बताया कि आरक्षकों ने थाने में उससे कोरे कागज पर सट्टे के नंबर लिखवाकर जालसाजी कर झूठा प्रकरण बना दिया। युवक ने आवेदन में बताया कि आरक्षकों ने उसे धमकाते हुए कहा कि यदि कहीं शिकायत की तो भविष्य में झूठे मुकदमे बनाकर तुझे फंसवा देंगे और यहां से दुकान भी हटवा देंगे। युवक ने बताया कि दिनभर दुकानदारी करते हुए उसकी बिक्री के रुपए भी वापस नहीं दिए। आसिफ ने एसपी से निवेदन किया है दोनों आरक्षकों पर विभागीय कार्रवाई करते हुए मुझे न्याय दिलाया जाए।
खबर के साथ शिकायत का आवेदन संलग्न है।