Betul : बिजली के ट्रांसफार्मर से ज्यादा ध्यान नौकरी में ट्रांसफर पर दे रही कांग्रेस: भाजपा

बैतूल

अघोषित बिजली कटौती को लेकर भाजपा उतरी सड़क पर

बैतूल। बिजली की अघोषित कटौती और बिजली गुल होने की समस्या को लेकर इन दिनों मप्र सरकार भाजपा के निशाने पर है आये दिन बिजली कटौती हो रही है दिन मे चार से पांच बार बिजली गुल होना आम बात हो गई है जिससे जनता परेशानी का सामना कर रही है भीषण गर्मी में बिजली नही रहने से लोग 45 डिग्री तापमान में पसीना आने को मजबूर हो रहे है जिसको लेकर आज बुधवार शाम भाजपा नेताओं सहित नागरिकों ने चिराग लेकर शहर में मार्च निकाला

बैंड बाजे के साथ हाथों में जलते चिराग लेकर सैकड़ो लोग सड़क पर चलते नजर आए प्रथम दृष्टया तो लगा कि ये कोई जुलूस है लेकिन कुछ देर बाद सड़को पर चल रहे लोगो ने कांग्रेस सरकार कोसना एवं अपनी भड़ास निकालना शुरू कर दिया वहीं कुछ लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी बेईमानो का राज बदल दो कमलनाथ सरकार हाय हाय के नारे लगाने भाजपा के सांसद डीडी उइके, आमला के भाजपा विधायक योगेश पण्डागरे , प्रदेश कोषाध्यक्ष हेमन्त खंडेलवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष बसन्त मकोड़े ने भी हाथों में चिराग लेकर प्रदेश की कमलनाथ सरकार को जमकर खरी खोटी सुनाई भाजपा के प्रदेश कोषाध्यक्ष हेमन्त खंडेलवाल ने कहा कि बीते पंद्रह साल में भाजपा की सरकार ने प्रत्येक घर तक बिजली पंहुचने का काम किया है वही इसके विपरीत आज कांग्रेस की छह महीने की सरकार बिजली देने में पूरी तरह असफल रही है दिन में तीन चार बार बिजली जाना कांग्रेस के राज में कोई नई बात नहीं है। प्रदेश में कांग्रेस के आते ही लालटेन युग पुनः आ गया है कांग्रेस सरकार जनता और किसानों को कभी भी पूरी बिजली नही दे सकती आज हम कांग्रेस सरकार का विरोध करने के लिए सड़कों पर उतरे है खंडेलवाल ने कहा कि ऐसा पहला मुख्यमंत्री देखा है जो कि मीटिंग में खुद ही परेशान रहता है कि बिजली क्यों जा रही है ऐसा मुख्यमंत्री किस काम है कांग्रेस के पास बिजली के ट्रांसफार्मर कैसे बदले उसे कैसे चालू रखे इस बात की परवाह नही है हा अधिकारियों के तबादले कैसे करे उनसे पैसा कैसे लिया जाय कांग्रेस इस बात मे माहिर है।