Gonda UP : खाद्यान्न माफियाओं पर मेहरबान है खाद्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी

प्रदेश

गोंडा Uttar Pradesh। मामला गोंडा जिला की मनकापुर तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत गनौरा का है जहां 1000 कुंटल खाद्यान्न गमन में 2 साल से चल रही है जांच इन लोगों ने किया जांच पूर्ति निरीक्षक महेश प्रसाद . पूर्ति निरीक्षक राम नारायण वर्मा. पूर्ति निरीक्षक चंदन सरोज . पूर्ति निरीक्षक दिनेश कुमार वर्मा. डीएम गोंडा कैप्टन प्रभास कुमार श्रीवास्तव ने मामले को संज्ञान में लेते हुए पूर्ति निरीक्षक दुकानदार व ग्राम प्रधान की मिलीभगत को देखते हुए तीनों के ऊपर एफ आई आर दर्ज कराने का आदेश किया था लेकिन खाद्यान्न विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों की मिलीभगत के कारण एफ आई आर दर्ज नहीं हुआ और ना ही खाद्यान्न की रिकवरी बनाई गई शिकायतकर्ता बार-बार शिकायत करता रहा वहीं खाद्यान्न विभाग के अधिकारी बार-बार फर्जी आख्या प्रेषित करते रहे जिसको देखते हुए शिकायतकर्ता माननीय उच्चतम न्यायालय हाई कोर्ट लखनऊ का दरवाजा खटखटाया जहां से गोण्डा के सक्षम अधिकारी को आदेश हुआ कि इस प्रकरण को जल्द से जल्द निस्तारण कर कार्रवाई करें लेकिन खाद्यान्न विभाग के दबंग अधिकारी व कर्मचारी 2 महीना बीत जाने के बाद भी अभी तक कोई ठोस कार्रवाई नहीं की इससे यह प्रतीत होता है की इस गमन में गोंडा खाद्यान्न विभाग भी मिला हुआ है आखिर कब होगी 1000 कुंटल खाद्यान्न गमन पर कार्यवाही कब मिलेगा जनता को न्याय