Umriya: नौरोजाबाद महाविद्यालय मे कार्यरत कर्मचारियो को वेतन के लाले

उमरिया

नौरोजाबाद। महाविद्यालय नौरोजाबाद की बड़ी धांधली उजागर हुई है जिसमे गरीब आदिवासियों के साथ अन्याय किया जा रहा है महाविद्यालय नौरोजाबाद में कार्यरत 3 कर्मचारियों का साल भर से वेतन नही दिया गया दिनांक 27-4- 18 को जनभागीदारी समिति की बैठक में जनभागीदार अध्यक्ष शिवनारायण सिंह विधायक की उपस्थिति में तीन पदों का पर सर्वसम्मति से चौकीदार ,भृत्य व कंप्यूटर ऑपरेटर की नियुक्ति का अनुमोदन हुआ जिसमे1. ललन सिंह –चौकीदार 2.मयंक गौटिया–भृत्य व राहुल यादव को कंप्यूटर ऑपरेटर को महाविद्यालय प्रशासन द्वारा नियुक्त गया किया गया जिसका मानदेय अभी तक उन्हें नही मिला इन सभी का कहना है कि महा विद्यालय प्रशासन उन्हें सिर्फ झूठा आस्वासन दे रहा है जब भी प्रिंसिपल या वहां पदस्थ कर्मचारियों से वेतन की बात करते है तो उनके द्वारा यही कहा जाता है कि इस महीने हो जायेगा परन्तु बीते एक साल हो गए उनका वेतन उन्हें नही मिला कर्मचारियों का कहना है कि पूरे परिवार की जिम्मेदारी उन्ही पर है वेतन न मिलने से पूरे परिवार का जीवनयापन करना उनके लिए असंभव है अगर उनकी वेतन अब नही दी जाती है तो इसकी पूरी जिम्मेदारी महाविद्यालय प्रशासन व जिला प्रशासन की होगी वे पुरे परिवार के साथ जीवनलीला समाप्त करने के लिए विवश होंगे । महाविद्यालय में न तो पानी की व्यवस्था है ना तो शौचालय की व्यवस्था है गंदगी का अंबार लगा हुआ है लेकिन न तो इस पर महाविद्यालय प्रशासन ध्यान दे रहा है ना तो जिला प्रशासन और न ही यहां के जनप्रतिनिधि।महाविद्यालय में न तो रोज प्राचार्य उपस्थित रहते है और न ही वह के स्टाफ।