सुरक्षाबलों को समय, स्थान और स्वरूप चुनने की खुली छूट: PM मोदी

देश

पीएम ने कहा क‍ि झांसी वीरों और वीरांगनाओं की धरती है। यहां से वह 130 करोड़ लोगों को संदेश देना चाहते हैं कि हमें सेना के शौर्य पर कोई शक न हो। हमें सेना पर बहुत भरोसा है। हमने सेना को फैसले लेने की इजाजत दे दी है।

  • पीएम मोदी ने कहा कि हमारे जवानों का यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा
  • सेना को जवाबी कार्रवाई के लिए समय और स्‍थान की इजाजत दे गई है
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि पाकिस्‍तान कटोरा लेकर दुनियाभर में भटक रहा है
  • पुलवामा जैसी तबाही मचाकर, हमें भी बदहाल करना चाहता है पाकिस्‍तान

झांसी।  पुलवामा आतंकवादी हमले के एक दिन बाद शुक्रवार को झांसी में जनसभा को संबोधित करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्‍तान को चेतावनी दी और कहा कि इस हमले का बदला लिया जाएगा। सेना को जवाबी कार्रवाई के लिए समय और स्‍थान की इजाजत दे गई है। पीएम ने कहा कि हमारे जवानों ने देश की रक्षा में अपने प्राणों की आहुति दी है। उनका ये बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। पुलवामा के दोषियों को सजा जरूर मिलेगी। 

उन्‍होंने कहा, ‘आज देश बहुत ही उद्वेलित और दुखी है। आप सभी की भावनाओं को मैं भलीभांती समझ पा रहा हूं। सेना को कार्रवाई के लिए पूरी छूट दी गई है। शहीदों का बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा। पाकिस्तान की हालत इतनी खराब कर दी गई है कि बड़े-बड़े देशों ने उससे दूरी बना ली है। पाकिस्‍तान कटोरा लेकर भटक रहा है। उसकी हालत खराब कर दी गई है।’ 

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘सुरक्षा बलों को आगे की कार्रवाई के लिए, समय क्या हो, स्थान क्या हो और स्वरूप कैसा हो, यह तय करने के लिए पूरी इजाजत दे दी गई है।’ पीएम मोदी ने कहा, ‘बदहाली के इस दौर में वह भारत पर इस तरह के हमले करके, पुलवामा जैसी तबाही मचाकर, हमें भी बदहाल करना चाहता है। लेकिन उसके इस मंसूबे का, देश के 130 करोड़ लोग, मिलकर जवाब देंगे, मुंहतोड़ जवाब देंगे।’ 

पीएम मोदी ने कहा कि हमारा पड़ोसी देश यह भूल रहा है कि यह नई रीति और नई नीति वाला भारत है। आतंकी संगठनों और उनके आकाओं ने जो हैवानियत दिखाई है, उसका पूरा हिसाब किया जाएगा।